काश मैं ऐसा कर पाती

काश मैं ऐसा कर पाती, काश मैं ऐसा कर पाती | शादी की भागादौड़ी में काश मैं ऐसा कर पाती, पास बिठाकर के तुझको तेरे बालों को सहला पाती, जड़ कर चुम्बन तेरे माथे पर दिल का फ़्रेम सजा पाती, काश मैं ऐसा कर पाती | मिक्की गुड्डू तुम मेरी …

माँ का एहसास

माँ के गुजरने के बाद ये पहली छुट्टियाँ हैं मेरी | मैं सोच रही थी न जाने अब भाई बुलाएगा या नहीं,अब माँ के बिना घर मे मन लगेगा या नहीं | ये ही हुआ शाम को ही भाई का फ़ोन आया और बोला (और गुड्डन कब आ रही हो …

मेरी बिटिया

मेरे आँगन की चिड़िया फुदक फुदक कर मुझे रिझा गयी, आज वो उड़कर अपनी नयी दुनिया बसा गयी | बचपन मैं वो जो खेलती गुड़िया से मेरी गुड़िया थी, हाथों मैं उसकी खनकती कई कई चूड़ियां थी, खनखनाती वो कंगना अपने साजन के घर गयी, आज वो उड़कर अपनी नयी …

रुई की रजाई

रेशमी मखमली कम्बलों में, मुझे नींद नहीं आती है, मुझे तो माँ की साड़ी से बनी, रूई की रजाई ही भाती है | ओढ़ कर रजाई को जब मैं सो जाती हूँ, खुद को माँ के आलिंगन मैं पाती हूँ, जैसे माँ थपकी देकर सुलाती है, मुझे तो माँ की …

माँ की याद

एक दिन पूछा मेरी बेटी ने मुझसे, माँ आपको अपनी माँ की याद नहीं आती, कभी नहीं देखा रोते क्या उनकी याद, नहीं सताती | मैंने उसको पास बिठाया बड़े प्यार से, उसे समझाया, जब मैं सुबह तुझे जगाती हूँ, तू करवट लेकर फिर सो जाती है, तब मुझे माँ …